Sumit Sapra

क्या सिर्फ़ काग़ज़ात पूछोगे? Democracy

क्या सिर्फ़ काग़ज़ात पूछोगे?

आज धर्म पूछोगे, कल जात पूछोगेकितने तरीक़ों से मेरी औक़ात पूछोगे मैं हर बार कह दूँगा, यही वतन तो मेरा हैघुमा फिरा के तुम भी तो वही बात पूछोगे सच थोड़े …